अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस International Mother Language Day (IMLD) 21 February

 

 

 

मातृभाषा को बोलने अौर सुनने का एहसास हीं बहुत सुखद होता है अौर संबंधो में ज्यादा  अपनापन अौर निकटता लाता है।   इसराइल की आधिकारिक भाषाएँ अरबी और हिब्रू हैं।   हिब्रू  मृतप्रायः भाषा थी, जिसे उन्हों ने  पुनर्जिवित किया । इसी तरह  बांग्लादेश ‘ भाषा आन्दोलन दिवस’  मना कर अपनी भाषा को संरक्षित कर रहा है। हमारे यहाँ तो भाषाअों का खजाना है। बस उनके सम्मान अौर संरक्षण की जरुरत है।

 

भाषा बाधा नहीं, अभिव्यक्ति है।

भाषा कोई भी हो, चमक बोलनेवाले में होती है।

मातृभाषा से ज्यादा मधुर कुछ भी नहीं ।

भाषा बाधा नहीं, अभिव्यक्ति है !!!!!

 

 

Image from internet.

जिंदगी के रंग 14 – कविता

if you experience the love, you have to touch the spirit, not the body.
~ Rumi

 

            भूलने की कुछ आदत सी हो गई है………..

जिंदगी की जद्दोजहद में।

डर लगता है कभी,

अपने आप को हीं न भूल जाऊँ।

अगर कभी तुम्हें भूल गई तो,

शिकवे गिले न करना

               बस धीरे से याद दिला देना  !!!!!!!!!