फ़ीनिक्स या मायापंछी ? -कविता Phoenix-poetry

In Greek mythology, phoenix   is a long-lived bird that is cyclically regenerated or reborn. Associated with the Sun, a phoenix obtains new life by arising from the ashes . may symbolize renewal

फ़ीनिक्स एक बेहद रंगीन पक्षी  होता है । जिस की चर्चा प्राचीन मिथकों व दंतकथाओं में पाया जाता है।  माना जाता है कि  वह मर कर भी राख से पुनः जी उठता है।

phoenix  1.jpg

एक लड़की भीगी आंखों वाली।

उसकी भीगी आंखें जैसे,

अोस भरी भीगी रातें हो।

थोड़ी   जिद्दी, थोङी हैरान-परेशान,

माया पंछी की तरह मायावी।

लड़ती झगड़ती दुनिया की अनुचित बातों से,

फिनिक्स

की तरह हर बार फिर से उठ जाती

पता नहीं कहां से वह शक्ति लाती

कितनी बार  राख से पुनर्जन्म लेने की काबलियत है उसकी?

हर बार, हर बार………..पर  कितनी बार……..?

कौन जाने कितनी बार??????????

 

 

Images from internet.

 

 

 

Advertisements

52 thoughts on “फ़ीनिक्स या मायापंछी ? -कविता Phoenix-poetry

      1. sacrifice करनेवाले ज्यादा बड़े दिलवाले और ज्यादा भावुक होते है. इसलिये मुझे लगता है ऐसे चरित्रों की इन बातों की चर्चा भी ज़रूरी है.
        मैंने देखा आप भी हिन्दी में लिखती है. अच्छा लगा.

        Liked by 1 person

      2. जी बिल्कुल सही कहा |
        दरअसल हिन्दी नें मुझे चुना और मैंने लिखना शुरू कर दिया 😚

        Liked by 1 person

      1. Usme bataya hh ki inka jeewan chakr 500 se 13000 ya 12994 ka dekha gaya… Poora jeewan kal ekal rehte hh…. Or chakr ke end mai ye lobhan, dalchini, or any jadibooti batorte hain ghosla banane ke lie fir sooraj dhalte hi jalkr raakh ho jaate hh…. Fir subah sooraj ki pehli kiran ke saath usi raakh mai se bahut chote aakar ka ek phoenix niklta hh or fir se chkr shuru

        Liked by 2 people

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s