एक सुहानी शाम कविता अौर कवियों के नाम An Evening with poets and poetry

Venue & date –    27.5.2017,  G5A, Shakti Mill, Mahalakshmi,   Mumbai

The eminent poets  –  Kala Ramesh, Bina Sarkar Ellias, Anju Makhija , Rahman Abbas, Vinita Agrawal, Rochelle Potkar, Smita Sahay, Gayatri Chawla, Neha Mishra Jha, Ramneek Singh, Tripurari Kumar Sharma, Smeetha  Bhoumik.

Discussion on – Veils, Halos & Shackles’ – An International book on women                                                                                           empowerment, Editor- Charles Fishman and Smita Sahay.

 

        एक सुहानी ढलती  शाम, मुम्बई का खुला आसमान,

         अपने घरों को लौटते  परिंदे,

        पास के पीपल के घोंसलों में चहचहाते पक्षी।

      बोगनवेलिया के खुबसूरत  झूमते फूलों पर उतर आई ,

        आसमान में ङूबते सुरज की लाली।

        ऐसे में    हिंदी, उर्दू अौर अंग्रेजी

        के गंगा-जमुनी कवियों अौर कविताअों का संगम।

      क्या यह नजारा दिल को सुकून पहुचाने के लिये कुछ कम है?

      एक सुहानी शाम कविता अौर कवियों के नाम…….

 

15 thoughts on “एक सुहानी शाम कविता अौर कवियों के नाम An Evening with poets and poetry

  1. एक मेरा दिल,
    दुसरी ये दिल्ली,
    कभी भी खाली नहीं,,
    हमेशा भरमार,
    जरूरत से ज्यादा,
    कुछ कहो भी दो,
    गऱ दोनों,
    भड़क जाते हैं,
    कहते हैं,

    वटले वटले…!!
    चल……हवा…..आन दें😀😀😀😀💗😊👍

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s