तकलीफ –  कविता 

The REKHA SAHAY Corner!

किसी की तकलीफ कम ना कर सको कोई बात नहीँ.

पर दर्द और तकलीफ बढ़ाओ भी नहीँ ,

तब भी बड़ी दुआ मिल जायेगी.

एक प्यारी सी मुस्कान ही जिंदगी जीने का

हौसला दे जायेगी.

View original post

Advertisements

50 thoughts on “तकलीफ –  कविता 

  1. बहुत अच्छे …👍👍

    और हिंदी के कविताओं के लिए मुझसे जुड़े ।
    मैं नया हूँ इस blogger world के लिए ।
    आपसे सहयोग इस अपेक्षा है ।
    🙏

    Liked by 1 person

      1. बहुत बहुत शुक्रिया आपका ।
        🙏🙏🙏
        आशा है आपसे बहुत कुछ सीखने को मिलेगा ।
        सधन्यवाद ।

        Liked by 1 person

      2. पुनः आभार एवं ख़ुशी है मुझे, पसन्द आयी आपको ।
        शुरुआत है ये ।
        🙏

        Liked by 1 person

      3. Blog बहुत पहले एक दोस्त ने चुपके से बना दी थी 😃
        मुझे कुछ दिन पहले पता चला है ।
        वही मेरी रचनाओं को post करता था ।

        Liked by 1 person

      4. आपको भी आपके आगामी रचनाओं के लिए Good Luck .
        लिखते रहिये ।
        जुड़े रहिये । ☺️

        Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s