चाँद अमावस हो गया

रात जागती रही

जागते ख्वाब पलकों के दर पर

इंतज़ार करते रहे…….

पुनम की रात सागर की ऊँची लहरें

चाँद को चूमने की कोशिश

करते करते हार कर सोने लगी……..

  पूनम के पूरे चाँद के फिर आने के इंतज़ार में .

और चाँद धीरे-धीरे

 जल कर  अमावस हो गया ……….

Advertisements

New seeds are growing !!!!

Its good to

leave each day behind,

like flowing water,

free of sadness.

Yesterday is gone

and its tale told.

Today new seeds are growing.

Rumi

खुद ही आवाज लगाइये !

रिश्तों को शब्दों का ,

मोहताज ना बनाइये ..

अगर अपना कोई खामोश हैं तो

खुद ही आवाज लगाइये ..!!

Unknown