कोई भी रिश्ता…..

कोई भी रिश्ता ना होने पर भी जो रिश्ता निभाता हैं,

वो रिश्ता एक दिन दिल की गहराइयों को छू जाता है।

View original post

Advertisements

वर्षा की बूँदों को लिखने की ख़्वाहिश

वर्षा की बूँदों को लिखने की ख़्वाहिश……

आकाश के काले मेघ से टपकते

बारिश की सुरीले संगीत ने

धरती के आँचल पर लिख

अपने आप पूरी कर दी .