ज़िंदगी के रंग – 92

ज़िंदगी कुछ शब्दों में

नहीं लिखी जा सकती

यह शब्दों की लड़ाई या

कोई ग़ज़ल, गीत , या कहानी नहीं.

बहते झरने सा ….

खट्टे-मीठे, रोते-हँसते

कुछ नाराज़ राज

कुछ ख़ुशगवार पलों

का हिसाब-किताब हैं.

It’s not a painting or a photograph. It’s a recently discovered waterfall in Peru, named Bride waterfall.

Courtesy: google images.

22 thoughts on “ज़िंदगी के रंग – 92

  1. बहुत सटीक… विस्तृत वृहत और बहुत व्यापक है जिंदगी और उससे कही अधिक व्यापक है उसके रंगों का अनुपम विविधतायें….

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s