उदास मुस्कान

उदास मुस्कान ,

एक नयन में आँसू

दूसरे में खिलती हँसी.

कौन सच , कौन मिथ्या ?

उदासी या हँसी ?

आँसुओं को आँखों हीं आँखों में पीती

आँखों की करुणा

या लबों की मुस्कान ?

14 thoughts on “उदास मुस्कान

  1. उदास मुस्कान के पीछे भी कोई राज़ होता है,
    मुस्कान भी उन्हीं की वजह से होती है उदास जिनपर नाज़ होता है।
    दीप

    Liked by 2 people

    1. राज “ज़िंदगी” होती है. जो कभी कभी यह समझने नहीं देती कि जीवन के नए रंगो को हँस कर जिया जाए या रो कर उसका सामना किया जाय .

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s