क्या आप जानते हैं विंटर ब्लूज़ सिंड्रोम ?

क्या आप जानते हैं बदलते मौसम का असर, विंटर ब्लूज़ सिंड्रोम क्या है?

Rate this:

मौसमी भावात्मक विकार (SAD) एक मनोदशा या मानसिक स्थिती है, जिसमें पूरे वर्ष सामान्य मानसिक स्वास्थ्य वाले लोगों में हर साल एक ही समय में अवसादग्रस्तता के लक्षण दिखते हैं, जो आमतौर पर सर्दियों में होता है। गर्मियों में भी यह समस्या हो सकती हैं।

कारण -दिन के उजाले में कमी, बॉडी क्लॉक, शरीर में हार्मोन के स्तर में बदलाव- नींद के हार्मोन मेलाटोनिन का कम स्राव और / या मस्तिष्क में मूड को नियंत्रित करने वाला रासायनिक सेरोटोनिन का कम स्राव।

समाधान – सर्दियों के दौरान ठीक से भीजन करें, अधिक समय दिन के उजाले/ सुर्य की रौशनी में रहें, सक्रिय रहें- दिन के समय 30 मिनट के लिए व्यायाम करें या टहलें, अगर डाक्टर का सुझाव हो तब इस सिंड्रोम के लिए नियमित रूप से दवा लें और लाइट थेरेपी लें।

courtesy -wikipedia

Do you know, winter blues syndrome?

YES, seasons can affect our mood.
winter blues syndrome

Rate this:

Seasonal affective disorder (SAD) is a mood disorder subset in which people who have normal mental health throughout most of the year exhibit depressive symptoms at the same time each year, most commonly in the winter. The condition in the summer can include heightened anxiety.

Reasons may be –Shorter daylight, Body clock, Changes in hormone levels in the body- low secretion of sleep hormone melatonin and/ or mood-regulating chemical serotonin in the brain.

Solutions –  Eat properly during the winter, Get more daylight, Be active- Go for 30 minutes of exercise or walk during the day time, take regular Medication if prescribed any for this syndrome and Light therapy.


courtesy -wikipedia

Children are so Innocent…….

Boundless Blessings by Kamal

Related image

GIVEN BELOW ARE SOME OF THE LETTERS THAT CHILDREN HAVE WRITTEN TO GOD;

CHILDREN ARE SO VERY INNOCENT. THEY CAN TELL EVERYTHING THEY WANT TO OUR LOVING GOD. HE IS ALWAYS THERE LISTENING WITH LOVE TO THEM. 

HE HIMSELF IS INNOCENCE PERSONIFIED:

DEAR GOD:

-‘Thank You for the baby brother, but I think you got confused because what I prayed for was a puppy.’

-‘I want to be just like my Daddy when I get big, but not with so much hair all over.’

‘I
think about You sometimes, even when I am not praying.’

-‘We read Thomas Edison made light. But in Sunday school they said You did it. So, I bet he stole Your idea.

-‘Please send a new baby for Mommy. The baby you sent last week cries too much and I can’t seem to be sleeping at all.’

-‘Could you please give my brother some brains? I think he has lost it somewhere. So far he…

View original post 81 more words

काश तराशे गए होते!!!!

ताज देख इसकी ,

बुनियाद देखने का ख़्याल आया.

वह भी क्या संगेमरमर की होगी ?

सफ़ेद चिकनी …ख़ूबसूरत ?

नींव में दबे

अंधेरी दुनिया में, वे वहाँ साँस कैसे लेते होंगे ?

क्या वे सोचते होंगे – काश तराशे गए होते,

मन्दिरों में देव बने

या ताज में सजें होते?

मज़बूत , कठोर ना होते

तब यहाँ ना होते

सिर्फ़ बोझ संभालते ……

Image courtesy- Chandni Sahay.