ज़िंदगी के रंग -113

जब तक फूलों सी

ख़ुशबू औ नज़ाकत थी .

बेदर्दी से पेश आते रहे लोग .

अपने को काँटे सा कठोर दिखाने के बाद

हम तो नहीं बदले पर

लोग बदल गए….

कुछ सुधर से गए हैं….

छोटी सी जिंदगी

सुना था जिंदगी के सफ़र में,

ऐसे कई मोङ आते हैं

जहाँ  कोई ना कोई छूट जाता हैं .

यह भी सुना-

छोटी सी है जिंदगानी

उम्र दो-चार रोज़ की मेहमान है .

मौसम रोज बदलते हैं…….

पर ऐसे बिना बोले

कोई  अपना जाता है क्या ?

हद हो गई – व्यंग

corruption Unlimited

Rate this:

Old satire  & English news- Rats drank it’: Cops as 1,000 litres of seized liquor disappears from police station चूहों का स्ट्राइक – व्यंग

मालखाने के शराब पीने के कलंक से आहत ,

चूहों में राहत की लहर दौड़ गई है.

लम्बी स्ट्राइक के बाद सच्चाई सामने आता देख ,

शराब की लापता बोतलेंपुलिस वालों के पास पा

चूहों ने ली चैन की साँस और नारा लगते देखे गए –

चूहे शराब नहीं पीते !!!!!

Latest news in English – Huge liquor stock seized from SHO’s residence in dry Bihar, entire police station staff replaced