सितारों

कहाँ खो गए , जैसे खो जातें हैं

रात के सितारे सवेरे की रोशनी में .

दर्द   टूट के बिखरा था मेरी आँखो से

टूटते तारों की तरह .

दर्द के सागर के बीच,

दिल की कसक में रह गई,

ख्वाहिशे …..शिकायत ……

आख़िर में ना मिल पाने की .

30 thoughts on “सितारों

    1. लाजवाब जानकरियाँ .
      गेहूँ के छोटे पौधे / wheatgrass के रस को green blood भी कहा जाता है . यह कैंसर और अनेक रोगों के इलाज में काम में आता है .

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s