मैं कौन हूँ ?

मैं कौन हूँ ?

एक शाश्वत प्रश्न है.

अपनी पहचान या तो

ख़ुद बनाओ या

वक़्त की रेत पर पड़े महान

चरण चिन्हों का अनुसरण करो.

पता मिल जाएगा .

23 March-शहीद दिवस Martyrs Day, India

जिंदगी तो अपने दम पर ही जी जाती है

दूसरों के कांधे पर तो सिर्फ

जनाजे उठाए जाते हैं.

~~ भगत सिंह

२३ मार्च के भगत सिंह, राजगुरु अौर सुखदेव को फाँसी दी गई थी। भारत में इसे शहीदी दिवस के रूप में मनाया जाता है।

The Martyrs Day on 23rd March 2019 celebrated with great patriotism by each and every citizen of India and Members of all political parties to pay tribute to Shaheed-e-Azam Bhagat Singh, Rajguru and Sukhdev who sacrificed their life for the country at a very young age.