ज़िंदगी के रंग -139

रिश्तों की कद्र करनी है ,

तो अभी करो जब ज़रूरत हैं .

जाने के बाद किसे पड़ी हैं

देखने की, आँसूओ की सच्चाई ?