अश्क़

हर चोट और उनके निशान,बहुत कुछ नया सीखा जातें हैं, बहते अश्क़ मज़बूत बना जातें हैं.

Rate this:

कुछ हीं बूँदें अश्क़

ना जाने कैसे दिल पर

पड़े भारी बोझ

हल्का  कर  जातें हैं.

कहते हैं वक़्त गहरे से गहरे

घाव भर देता है .

पर सच तो यह है ,

वक़्त उन घावों के साथ रहना

सीखा देता है .

सिर्फ़ आँसू हीं हैं जो दर्द बहा ले जातें हैं.

एक सच यह भी है ,

हर चोट और उनके निशान

बहुत कुछ नया सीखा जातें हैं .

बहते अश्क़ मज़बूत बना जातें हैं.