Your pain

Your pain

is the breaking

of the shell

that encloses  

your understanding.

 

~~~Khalil Gibran

 अपने  को पाना, Your relationship with you

 

खुद को   ना खोने देना

अौरों को खुश करने की कोशिश में।

 अपने  को पाना

लोगों को खोने से अच्छा है।

जिंदगी थी खुली किताब

जिंदगी थी खुली किताब,

हवा के झोकों से फङफङाती ।

आज खोजने पर भी खो गये

पन्ने वापस नहीं मिलते।

शायद इसलिये लोग कहते थे-

लिफाफे में बंद कर लो अपनी तमाम जिन्दगी,

खुली किताबों के अक्सर पन्नें उड़ जाया करते है ।

Mankind

Know mankind well,

don’t degrade every man as evil,

and don’t exalt every man

thinking he is good.

He who cannot discover himself;


cannot discover the world.”

 

❤  Rumi

आसमान के बादल

आसमान के बादलों से पूछा –

कैसे तुम मृदू- मीठे हो..

जन्म ले नमकीन सागर से?

रूई के फाहे सा उङता बादल,

मेरे गालों को सहलाता उङ चला गगन की अोर

अौर हँस कर बोला – बङा सरल है यह तो।

बस समुद्र के खारे नमक को मैंने लिया हीं नहीं अपने साथ।

Be A Candle                                    

In a night

        full of pain

                  and darkness,

                                be a candle

                                      spreading light

                                                          until dawn

❤ Rumi