Glory of the Faith- Our death is our wedding with eternity

RUMI( death anniversary -17 December)

Born – 30 September 1207 Balkh,
Died -17 December 1273 (age 66) Konya, Sultanate of Rum
His full name is Jalāl ad-Dīn Muḥammad Balkhi Jalāl also known as Dīn Muḥammad Rūmī.

Goodbyes are only for those

who love with their eyes.

Because for those

who love with heart and soul

there is no such thing

as separation.

❤ ❤ ❤ Rumi

 

 

Rumi – Tasbeeh

courtesy Google

A life without love

A life without love is a waste.

“Should I look for spiritual love, or material, or physical love?”

Don’t ask yourself this question.

Discrimination leads to discrimination.

Love doesn’t need any name, category or definition.

Love is a world itself.

Either you are in, at the center, or you are out, yearning.

❤ Shams of Tabriz 

 

Shams-i-Tabrīzī / Shams al-Din Mohammad was   spiritual instructor of Mewlānā Jalāl ad-Dīn Muhammad Balkhi / Rumi.

Copying other people

For years,

copying other people,

i tried to know myself.

From within,

i couldn’t decide what to do.

Unable to see,

i heard my name being called.

Then i walked outside.”

❤  Rumi

नाम में क्या रखा है ? What is in a name?

जब, मेरी बेटी छोटी थी। तब मैं उसके साथ अक्सर एक खेल खेला करती थी ।

उसे अलग अलग नाम से बुलाती थी और फिर उससे उसका नाम पूछती थी।

उसे इस खेल में बङा मजा आता था। उसके चेहरे पर बिखरी उसकी खुशी और

खिलखिला कर नए -नए नाम बताने का खेल मुझे बड़ा अच्छा लगता था 

 यह खेल बहुत बार उल्टा भी चलता  था।  यह  मैं अक्सर तब करती थी,

जब मेरे पास बहुत काम होता था। जब मैं बहुत व्यस्त होती थी और वह

मुझे कुछ ना कुछ बोल कर परेशान करती रहती थी। मतलब यह कि  मैं

तब  उसे व्यस्त रखने के लिए  ऐसा करती थी।

 शायद, दुनिया में हर व्यक्ति के लिए  अपना नाम ही सबसे प्यारा शब्द  होता है।

पर  लड़कियों के  नाम शादी के बाद  बदल जाते हैं। लड़कियां अपने नाम या सरनेम के

साथ हीं  जिंदगी क्यों नहीं चला सकती हैं?